केंद्र सरकार की देश भर में मार्च 2022 तक 1 लाख LPG delivery centre खोलने की योजना है। इसमें ग्रामीण और अर्द्ध-शहरी इलाकों पर जोर होगा। सरकार की ई-सेवा डिलिवरी इकाई CSC SPV ने कहा कि उसने 3 सरकारी तेल कंपनियों BPCL, HPCL और IOC के साथ मिलकर विभिन्न राज्यों में करीब 21,000 LPG केंद्र खोले हैं।




कैसे शुरू करें बिजनेस

अगर आप भी नया रोजगार शुरू करना चाहते हैं तो कॉमन सर्विस सेंटर स्‍कीम (CSC) आपकी मदद कर सकती है। आप सीएससी की आधिकारिक वेबसाइट https://csc.gov.in/cscspvinfo पर जाकर आसानी से सीएससी सेंटर के लिए अप्‍लाई कर सकते हैं। रजिस्‍ट्रेशन के लिए ज्‍यादा दिक्‍कत भी नहीं होगी। 

इन सर्विस से होगी कमाई

CSC की मंजूरी मिलने के बाद आप बैंकिंग, बीमा, PAN कार्ड और पासपोर्ट बनवाने की सेवा दे सकते हैं। यही नहीं बिजली बिल का पेमेंट, IRCTC से टिकट बुकिंग, शिक्षा और कौशल विकास से जुड़े कोर्स की सर्विस भी दे सकते हैं। अब सरकार सीएससी के जरिए रसोई गैस (LPG) सिलेंडर की डिलिवरी भी कर रही है। इससे CSC की आमदनी और बढ़ेगी।


CSC SPV की मुहिम

CSC SPV के MD दिनेश त्यागी ने एक बयान में कहा कि BPCL के साथ मिलकर आज हमारे LPG वितरण केंद्रों की संख्या 10,000 पहुंच गई, जो हमारे लिये बड़ी उपलब्धि है। इसके अलावा हम HPCL के साथ मिलकर 6,000 और IOC के साथ 5,000 एलपीजी वितरण केंद्र चला रहे हैं। चालू कारोबारी साल के अंत तक हमारे एलपीजी वितरण केंद्रों की संख्या 1 लाख पहुंच जाएगी।

CSC सेंटर खुले

सीएससी ने ये एलपीजी वितरण केंद्र सभी राज्यों में खोले हैं। 5 राज्यों...उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, बिहार और राजस्थान में इन केंद्रों की संख्या सबसे ज्‍यादा है। हमारा जोर ग्रामीण क्षेत्रों पर है जहां लोग अभी भी खाना पकाने के लिए लकड़ी और दूसरे प्रदूषण फैलाने वाले ईंधन पर निर्भर हैं। सीएससी अपने डिजिटल सेवा पोर्टल से लाभार्थियों को LPG सिलेंडर उनके घर तक पहुंचाने में मदद करेगा।