प्राइवेट सेक्टर के दो बैंकों ने Saving और Fixed deposit की ब्‍याज दर में संशोधन किया है। इनमें IDFC First Bank 7 दिन से लेकर 10 साल तक की FD पर 2.75 परसेंट से लेकर 6 परसेंट तक ब्याज दे रहा है। नई दरें 1 मई से लागू हो चुकी हैं। वहीं Axis Bank ने भी रिटेल टर्म डिपॉजिट (Retail term deposit) पर ब्‍याज दर बदल दी है। IDFC First Bank में अब आपको पहले की तरह Saving पर बेहतर ब्‍याज नहीं मिलेगा। 



IDFC First Bank ने बदलीं FD पर दरें

IDFC First Bank की वेबसाइट के मुताबिक बदली हुई दरों में 7 से 14 दिन की FD पर 2.75 फीसद ब्याज दे रहा है। 15 से 29 दिन की FD पर ग्राहकों को 3 फीसद और 45 से 90 दिन की जमा पर 4 फीसद और 91 से 180 दिन FD पर 4.50 फीसद ब्याज दे रहा है। 181 दिन और 1 साल से कम मैच्योरिटी वाले FD पर 5.25 फीसद ब्याज है।

IDFC First Bank ने सेविंग्स खाते पर ब्याज दरों में भी कटौती की थी। बैंक 1 मई से पहले ग्राहकों को 1 लाख से कम जमा रकम पर भी 6 परसेंट की जगह अब सिर्फ 4 परसेंट ब्याज देगा। 2% की कटौती की गई है।

IDFC First Bank का Q4 रिजल्‍ट

बता दें कि IDFC First Bank का Q4 रिजल्‍ट भी आ चुका है। उसका एकीकृत शुद्ध लाभ जनवरी-मार्च तिमाही में 76.36 करोड़ रुपये रहा। इससे पिछले कारोबारी साल 2018-19 की इसी तिमाही में बैंक को 212 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। बैंक ने कहा कि आईडीएफसी और सीएफएल (कैपिटल फर्स्ट लिमिटेड) का विलय 1 अक्टूबर 2018 को होने के कारण वित्त वर्ष 2019-20 के परिणाम की तुलना पिछले साल से नहीं की जा सकती। बैंक को अक्टूबर-दिसंबर 2019 की तिमाही में 1,631.59 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। 

बैंक की आय 17,962.72 करोड़ रुपये
शेयर बाजार को दी जानकारी के मुताबिक जनवरी-मार्च तिमाही में बैंक की आय 4,553 करोड़ रुपये रही जो इससे पिछले कारोबारी साल की इसी तिमाही में 3,971 करोड़ रुपये थी। कारोबारी साल 2019-20 में बैंक की आय 17,962.72 करोड़ रुपये रही जो 2018-19 में 13,056.17 करोड़ रुपये थी। मार्च की समाप्ति पर बैंक की सकल NPA उसके कर्ज का 2.6 प्रतिशत रही जो पिछले साल इसी दौरान 2.43 प्रतिशत थी। 

NPA की बात

इस दौरान बैंक का शुद्ध NPA उसके शुद्ध कर्ज का 0.94 प्रतिशत रहा जो इससे पिछले कारोबारी साल में 1.27 प्रतिशत था। बैंक के निदेशक मंडल ने बांड, निजी नियोजन के आधार पर अधिकतम 5,000 करोड़ रुपये जुटाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी।

IDFC First Bank की चेक करें नई ब्याज दरें