अगर आप काम की तलाश में हैं आपके पास कोई भारी भरकम डिग्री नहीं है तो परेशान होने की जरूरत (amazon flipkart)  नहीं है. Amazon, Flipkart और Snapdeal जैसी ई-कॉमर्स कंपनियां आपके लिए बेहतरीन मौका लेकर आई हैं. आप इन कंपनियों प्रोडक्ट डिलीवरी का काम संभाल सकते हैं. इस बिजनेस के जरिए एक ई-कॉमर्स कंपनी से रोजाना 5,000 रुपए कमाए जा सकते हैं.




अब बात आती है कि ई-कॉमर्स कंपनियों (E-commerce companies) में डिलीवरी कंपनी के तौर पर काम करने के लिए आपको क्या करना होगा? तो इसके लिए आपको इन कंपनियों का लॉजिस्टिक पार्टनर (amazon flipkart)   (Logistic partner) बनना होगा. इसके लिए शुरुआत में कुछ इंवेस्टमेंट करनी पड़ती है, जैसे कि इसके लिए गाड़ियों (बाइक, थ्री व्हीलर और फोर व्हीलर) की जरूरत होगी. इसके साथ ही एक दुकान भी लेनी पड़ेगी.

दुकान लेना फायदेमंद सौदा 

ओवरआल खर्चा जोड़ा जाए तो शुरू में आपको लगभग 2 लाख रुपए खर्च करने पड़ सकते हैं, हालांकि ये आप पर निर्भर करता है, आप चाहें तो इस खर्चे को जरूरत के मुताबिक कम या ज्यादा कर सकते हैं. मगर दुकान जमाने में आपका ही फायदा है क्योंकि ऐसा करके आप एक साथ कई ई-कॉमर्स कंपनियों के लॉजिस्टिक पार्टनर बन सकते हैं.

इस तरीके से बचा सकते हैं खर्च 

अब दूसरी बड़ी जरूरत है डिलीवरी बॉयज की. इसके लिए आप सोशल प्लेटफॉर्म्स जैसे फेसबुक (Facebook) और वाट्सऐप (WhatsApp) के जरिए या पोस्टर छपवाकर विज्ञापन दे सकते हैं. एक बात (amazon flipkart)  और जितने डिलीवरी बॉयज होंगे आपको उतनी ही गाड़ियों की भी जरूरत होगी. हालांकि इससे निपटने का भी तरीका है कि आप डिलीवरी बॉयज को खुद की बाइक और फ्यूल इस्तेमाल करने को कहें और इसके बदले में उन्हें प्रति पैकेट के हिसाब से पेमेंट करें. इस तरीके से आप बाइक, फ्यूल कॉस्ट और मेंटेनेंस के खर्चे से बच जाएंगे.

रोजाना होगी 5,000 से ज्यादा की कमाई

अगर आप इस बताए गए तरीके पर अमल करते हैं तो आप ई-कॉमर्स की एक वेबसाइट से रोज 5,000 रुपए यानी लगभग हर महीने 1,50,000 रुपए कमा सकते हैं. साथ ही अगर आप पांच कंपनियों के (amazon flipkart)  लॉजिस्टिक पार्टनर बन गए तो आपकी महीने भर की कमाई का आंकड़ा 7 लाख रुपए से अधिक पहुंच जाएगा. यानी आपकी चांदी ही चांदी है.