म्यूचुअल फंड से पैसा निकालने का सिलसिला जारी है। इक्विटी म्यूचुअल फंड में लगातार सातवें महीने जनवरी में 9,253 करोड़ रुपए की निकासी हुई। जनवरी में नेट आउटफ्लो 35,586 करोड़ रुपए रहा है। जनवरी में म्यूचुअल फंड डेट सेग्मेंट में भी सतर्क रहे और इस दौरान उन्होंने 33409 करोड़ रुपए की निकासी की है। बता दें कि दिसंबर में डेट फंडों में म्यूचुअल फंड ने पैसे लगाए थे।

                           




इक्विटी से कब कितना निकाला

म्यूचुअल फंड ने जनवरी में शेयर बाजार से 9,253 करोड़ रुपए निकाल लिए। वहीं दिसंबर में इक्विटी से 10,147 करोड़ रुपए निकाले थे। नवंबर महीने में इक्विटी म्यूचुअल फंड से 12,917 करोड़ रुपए और अक्टूबर में 2,725 करोड़ रुपए का आउट फ्लो देखा गया था।

सितंबर में म्यूचुअल फंड ने इक्विटी से 734 करोड़, अगस्त में 4,000 करोड़ और जुलाई में 2,480 करोड़ रुपए निकाले थे, जबकि जून में इस सेग्मेंट में 240.55 करोड़ रुपए का इनफ्लो देखा गया था।


शेयर बाजार से क्यों निकाल रहे हैं पैसे

असल में शेयर बाजार में लगातार रैली जारी है। नवंबर 2020 के बाद से ही बाजार में आए दिन नए रिकॉर्ड बन रहे हैं। इस तेजी में कई शेयर अपने रिकॉर्ड हाई या 1 साल के हाई पर हैं। ऐसे में मुनाफा वसूली भी शेयर बाजार से पैसे निकालने की एक वजह है। दूसरा बाजार के रिकॉर्ड वैल्युएशन को देखते हुए फंड हाउस सतर्क हैं। इसलिए जिन शेयरों में उन्हें मुनाफा मिल गया है, उसे बेचा जा रहा है।

हालांकि दूसरी ओर विदेशी निवेशक और रिटेल निवेशक बाजार में लगातार पैसा डाल रहे हैं, जिससे बाजार में रैली कायम है और म्यूचुअल फंड की बिकवाली का असर नहीं है। जनवरी में निवेशकों ने करीब 19 हजार 472 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे हैं।